Gandhi Jayanti – 16 Interesting Facts about Mahatma Gandhi : महात्मा गांधी से जुडी 16 रोचक बातें

0
1464
Mahatma Gandhi ji

Mahatma Gandhi ji जिनका असली नाम मोहन दास करम चंद गाँधी था। आज हम हमारे राष्ट्रपिता के बारे में कुछ अनसुनी और अन कही बातों के बारे में जानेंगे। 

  1. Mahatma Gandhi ji का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को हुआ था। यह दिन पूरी दुनिया में International Day of Non-Violence के तौर में मनाया जाता है।
  1. गाँधीजी को महात्मा की उपाधि 1914 में गुरूदेव रबीन्द्रनाथ टैगोर ने दी थीं।  
  1. Mahatma Gandhi ji को कोई अगर सिर्फ आज़ादी और अहिंसा के लिए किये गए कार्य के लिए जनता है तो वह उनके बारे में अंश मात्र भी नहीं जनता है। गाँधीजी ने नागरिक अधिकार, छूट-अछूत, साफ़-सफाई और भी आया कई चीज़ो में भारत के उत्थान में अपना सहयोग किया था।   
  1. Mahatma Gandhi ji ने अपनी वक़ालत की पढ़ाई London से पूरी की थी।  वह आपने शिक्षकों के बीच अपनी ख़राब लिखाई को लेकर बहुत प्रसिद्ध थे।  
  1. गांधी और उनकी पत्नी की पहली संतान थी जब वह 16 साल के थे। कुछ दिनों बाद उस बच्चे की मृत्यु हो गई, लेकिन दंपति को ब्रह्मचर्य का पालन करने से पहले चार बेटे हुए।
  1. Mahatma Gandhi ji South Africa में भी 21 साल रहे।  वहाँ भी उन्हें कई बार नस्लवाद के खिलाफ आवाज़ उठाने के लिए कई बार जेल जाना पड़ा था।  
  1. भारत में 53 प्रमुख सड़कें (छोटे लोगों को छोड़कर) हैं, और भारत के बाहर 48 सड़कें हैं जो उनके नाम पर हैं. 
  1. Mahatma Gandhi ji को Nobel Peace Prize के लिए 5 बार नामाँकित किया गया था। लेकिन उन्हें कभी भी ये पुरस्कार प्रदान नहीं किया गया। उन्हें वर्ष 1937, 1938, 1939, 1947 में इस पुरस्कार के लिए नामाँकित किया गया था।
  2. आगे चलकर Nobel Peace Committee ने इस बात का खेद सार्वजनिक मंच पर किया की वह उन्हें इस पुरस्कार से वंचित रखा गया।   

यह पढ़े – भारत में किताब को Ban करने के पीछे क्या कारण है ?

  1. Mahatma Gandhi ji के अधिकांश अवशेषों को उनके द्वारा पहने गए कपड़ों के साथ ही गांधी संग्रहालय, मदुरै में संरक्षित रखा गया है. 
  1. 1927 में महात्मा गांधी की आत्मकथा ‘An Autobiography of My Experiments with Truth’, 1999 में हार्पर कॉलिंस पब्लिशर्स एलएलसी द्वारा ’20 वीं शताब्दी की 100 सबसे महत्वपूर्ण आध्यात्मिक पुस्तकों’ में से एक घोषित की गई थी।
  2. गाँधीजी एक Irish उच्चारण के साथ अंग्रेजी बोलते हैं क्योंकि उनके पहले शिक्षकों में से एक एक आयरिश है।
  1. हमें लगता है, आप मुद्रा पर गांधी की छवि को देखकर मुस्कुराएंगे। हममें से अधिकांश मानते हैं कि चित्र खींचा या चित्रित किया गया है। लेकिन तथ्य यह है कि, यह 1946 में पूर्व वायसराय हाउस में एक गुमनाम फोटोग्राफर द्वारा ली गई एक मूल तस्वीर थी जो अब भारत के राष्ट्रपति भवन में स्थित है। छवि को दर्पण छवि में विकसित किया गया है और सभी भारतीय मुद्रा नोटों पर मुद्रित किया गया है।
  1. ग्रेट ब्रिटेन ने उनकी मृत्यु के 21 साल बाद उन्हें सम्मानित करते हुए एक डाक टिकट जारी किया। ग्रेट ब्रिटेन वह देश था जिसके खिलाफ उन्होंने आजादी की लड़ाई लड़ी थी।
  1. गांधी को फोटो लेने से नफरत है। दिलचस्प बात यह है कि वह उस दौरान सबसे ज्यादा फोटो खींचने वाले व्यक्ति हैं।
  2. सुभाष चंद्र बोस ने 1944 में गांधी को सिंगापुर रेडियो पर ‘देश पिता’ (राष्ट्रपिता) कहा। इसके बाद, सरोजिनी नायडू ने भी 1947 के सम्मेलन में इसी शीर्षक का उल्लेख किया। यह शीर्षक पूरे देश में बहुत लोकप्रिय है, हालांकि भारत सरकार ने कभी भी गांधी को आधिकारिक रूप से इस तरह का कोई उपाधि प्रदान नहीं की।

महात्मा गांधी द्वारा प्रसिद्ध उद्धरण -:

  • “आपको वह परिवर्तन होना चाहिए जो आप दुनिया में देखना चाहते हैं।”
  • “खुद को खोजने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप खुद को दूसरों की सेवा में खो दें”
  • “किसी राष्ट्र की महानता का अंदाजा उस तरह से लगाया जा सकता है जिस तरह से उसके जानवरों के साथ व्यवहार किया जाता है।”

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here