Coronavirus 2020 : Coronavirus in India | भारत मे कोरोनावायरस

0
2977
Coronavirus 2020

भारत में पहला मामला कोरोनावायरस वैश्विक महामारी का 30 जनवरी 2020 को रिपोर्ट किया गया था , इस वायरस का उद्गम चाइना बताया जाता है | स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार 2 March तक कोरोनावायरस के लगभग 1,764 मामले एवं 50 मृत्यु हो चुकी हैं | 

भारत में पहला मामला कोरोनावायरस वैश्विक महामारी का 30 जनवरी 2020 को रिपोर्ट किया गया था ,जानकारों की माने तो,भारत में दुनिया के मुकाबले कोरोनावायरस से संक्रमित मामले काफी कम आ रहे हैं | इन आंकड़ों के कम आने का एक कारण यह भी है कि भारत में कोरोनावायरस की जांच दर बाकी विश्व के मुकाबले काफी कम है | भारत मे कोरोनावायरस का संक्रमित दर्द 1.7 है जो कि बाकी देशों के मुकाबले काफी कम है |

What is coronavirus | कोरोनावायरस क्या है?

Coronavirus Animated Image
Source- Pixabay

कोरोनावायरस  वायरस उन 7 विषादूओ के परिवार मे से एक है, जिनमे अभी-अभी उत्पन्न वायरस Covid-19 भी शामिल है | यह वायरस जानवरो तक सिमित न रहकर इंसानो को भी अपनी चपेट मे ले लेते है | यह वायरस की चपेट मे आया व्यक्ति अगर किसी भी वास्तु या व्यक्ति को छू ले तो वह उस वास्तु मे  भी आपने संक्रामड फैला देता है | इसी कारण इस वायरस को ज्यादा खतरनाक और जानलेवा माना जा रहा है |  

चीन के wuhan  शहर से उत्पान हुआ ये वायरस कई मामलो मे SARS (Severe Acute Respiratory Syndrome) के समान हैं | ये वायरस 2002-03 मे पाया गया था | इस वायरस की चपेट मई लगभग 8000 मामले सामने आये थे और करीबन 800 मौते हुई थी | 

एक और कोरोनावायरस, 2012 मे MERS(Middle East Respiratory Syndrome) के नाम से शुरू हुआ था | यह वायरस बहुत ही ज्यादा जानलेवा था , इसके लगभग 2500 मामलो मे 900 मौतें हुई थी | 

कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा 65 साल से ऊपर के व्यक्ति को संक्रमित करता है | इस वायरस से मरने वालो मे सबसे अधिक मृत्यु दर 21.8% बुजुर्गो की है | इस वायरस की सबसे खतरनाक बात यह है की जबसे यह चीन के वुहान शहर से उत्पन हुआ है | इस वायरस ने खुद को उत्परिवर्तित कर लिया है ,जिससे इस वायरस का टिका बनाना बहुत कठिन हो चूका है |  

 How this coronavirus pandemic started? | यह माहमारी कैसे शुरू हुई?|

Coronavirus Pandemic Tracking Map
Source – NYT

इस वायरस का स्रोत wuhan का wet market माना जा रहा हैं , जहा ज़िंदा और मरे हुए जानवरों को बेचा जाता है |

ऐसी जगह में जानवरों में पाए जाने वाला संक्रमण इंसानों में आसानी से प्रवेश कर जाता है क्योंकि ऐसी जगह जहां जानवरों को जिंदा रखा व काटा जाता है वहां साफ-सफाई रखना बहुत ही कठिन होता है| आमतौर पर स्थान अत्यधिक घनी आबादी वाले होते हैं ,जिससे संक्रमण फैलने की दर व खतरा दोनों बहुत ही ज्यादा होता है|

इस वायरस का पशु स्रोत चमगादड़ बताया जा रहा है| वहां के बाज़ारों में चमगादड़ तो नहीं बेचा जाता परंतु जानकारों का मानना है कि यह चमगादड़ द्वारा वहां रखे जानवरों में किसी तरह फैलना शुरू हुआ होगा |

यहां से स्थिति कितनी बत्तर हो सकती है?

Man in Mask
Source- Pixabay

South Morning China Post के अनुसार कोरोनावायरस का पहला मामला जो सामने आया था, वह 17 November 2019 मे था | उसके बाद इसके मामले wuhan जो की चीन के HUBEI  प्रोविंस मे है आने शुरू हुए | देखते ही देखते यह तेजी से इन्सानों के बीच फैलना शुरू हो गया | इसकी रफ़्तार को देखते हुए chinese सरकार ने पुरे wuhan शहर को बाहरी आवा -गमन के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया | 

चाइनीस सरकार इसे दूसरे देशो मे फैलने से नहीं रोक पाई | और इसने पूरे विश्व को अपनी चपेट मे लेना शुरू कर दिया | इसी को देखते हुए WHO ने 11 March 2020 को इसे महामारी घोषित कर दिया | इस महामारी ने तेजी से अपनी चपेट मई समूचे यूरोप और उत्तरीय-अमेरिक को ले लिया | 

कोरोनावायरस नामक महामारी ने अकेले यूरोप मई लगभग 30,000 से ज्यादा जाने ले ली है, जिसमे सबसे ज्यादा मौते इटली और स्पेन मई हुई है | विश्व का सबसे ताक़तवर देश अमेरिका भी इस महामारी के आगे घुटने टेकता नज़र आ रहा हैं | वहा इस संक्रामड से अब तक लगभग 2 लाख से ज्यादा मामले पाए गए है और 5 हज़ार से ज्यादा मौते हुई है

यह सब देखते हुए, हम यह केह सकते हैं , यदि इस महामारी को बढ़ने से रोकना है तो पुरे विश्व को एक साथ मिलकर इससे लड़ना होगा | 

क्या हम 1.3 billion भारतीय इस कोरोनावायरस जैसी महामारी को को हरा पाएंगे?

Population in India

कोरोनावायरस का भारत मे तेज़ी से फैलने का ज्यादा खतरा है, क्योंकि यहाँ की आबदी बहुत ही ज्यादा और घनी है | यह सब चीज़े इस वायरस को फैलने मे सबसे ज्यादा मदद करती है | अभी तक (2-04-2020) इस वायरस के भारत मे  तक़रीबन 2113 मामले सामने आये है जिसमे की 60 मौते हुई है और 182 लोग ठीक भी हो चुके है | WHO भी इस बात की चिंता जाहिर कर चुका है की भारत इस वायरस पर किस तरह काबू पाता है ,यह पुरे विश्व पर असर करेगा | 

भारत भी इस कोरोनावायरस से लड़ने के लिए अपनी कमर कस चूका है| इसी के मद्देनज़र प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 19 मार्च को जनता कर्फ्यू का एलान किया था ,जिसको व्यापक जान समर्थन भी हासिल हुआ | परन्तु तत्कालीन स्थिति को देखते हुए प्रधानमंत्री ने 21 दिन का lockdown घोषित किया ताकि विदेशों से आये लोगो की पहचान की जा सके और अगर उनमे कोरोनावायरस के लक्षण पाए गए तो तत्काल अस्पताल मे भर्ती किया जाये | 

इस कोरोनावायरस महामारी में हमें क्या सावधानियां बरतनी चाहिए? | What precautions should we take in this Coronavirus pandemic?

Hand-Wash

इस महामारी से अगर हमे आपने और अपने  लोगो को बचाना है, तो सबसे अच्छा तरीका है “Social  Distancing” या कहे “सामाजिक दुरी”| इसका मतलब है की लोगो से दुरी बनाये रखे, हाथ न मिलाये, एक-दूसरे से काम से काम 1 meter की दुरी रखे, और खास्ते या छींकते वक़्त अपना हाथ मुँह पे रखे | अगर घर से निकलना जरूरी हो तो, मुँह मे Mask लगाकर निकले और निकलने से पहले और आने के बाद अच्छे से हाथ साबुन से 20 सेकंड तक धोये | 

यह एक जंग है जो हम सब लोगो को मिलके लड़नी है | आये सब मिलकर एहतियात बरते और सरकार का पूरा समर्थन करे इस महामारी खिलाफ जीते और पूरी दुनिया को अनेकता मे एकता की शक्ति का बोध कराएं 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here